Kahani Sangrah- Matter of Thinking

Total Matter of Thinking- 12
Download

Maintain positive attitude in worse condition.

एक साँप एक सुतार की
औजारों वाली बोरी में घुस
गया घुसते समय बोरी में
रखी हुई सुतार की आरी
उसके शरीर में चुभ गई और
उसे घाव हो गया जिससे उसे
दर्द होने लगा और वह
विचलित हो उठा। गुस्से में
उसने उस आरी को अपने
दोनों जबडो़ं में जोर से दबा
दिया। अब साँप के  मुख में
भी घाव हो गया और खून
निकलने लगा। अब दर्द से
परेशान होकर उसने उस
आरी को सबक सिखाने के
लिए अपने पूरे शरीर को
उस साँप ने उस आरी के
ऊपर लपेट लिया और
अपनी पूरी ताकत के
साथ उसको जकड़
लिया इससे उस साँप का
सारा शरीर जगह-जगह से
कट गया और कुछ ही देर
बाद वह मर गया।

ठीक इसी प्रकार कई बार
हम भी तनिक सा आहत
होने पर आवेश में आकर
सामने वाले को सबक
सिखाने के लिए स्वयं को
ही अत्याधिक नुकसान
पहुँचा देते हैं।

सही ज्ञान और शिक्षा हमारे
जीवन में हमारा मार्गदर्शन
करती है और हमारे विवेक
को जागृत करती है।

जरूरी नहीं कि हम हर बात
की प्रतिक्रिया दे, हमें
कभी-कभी दूसरों की
गलतियों को नजरअंदाज
करते हुए अपने कर्म पथ
पर अग्रसर होना चाहिए।
यह सही नही है कि दूसरे
को उसकी गलती की सजा
देने के लिए हम अपने लक्ष्य
और भक्ति पथ से ही
विचलित हो जाये।

*यदि आप को माफी मांगना, क्षमा करना और भूल जाना आता है तो आप दुनिया के सबसे बहादुर,सबसे मजबूत और सब से खुश व्यक्ति है।*

Posted on- 8/6/2018 11:12:46 AM
Visitors:
Google Ads