Success Story of ANIL KUMAR GUPTA Download
 


Name: ANIL KUMAR GUPTA Place: BHILAI
Recognition Level: Venus Business Start From: 18-12-2005
Education: Mechanical Engineer Team Size:
Past Work Profile: Teacher in St.Xaviers
Achievements: 2 House, 2 Car, More Than 10 Foreign Tour, Property
Philosophy: इस बिजनेस में अगर सफल होना है तो केवल और केवल सिस्टम फोलो कीजिये सीनियर पर भरोषा कीजिये - अपनी अकल मत लगाईये |
 
Post Your Greetings    
Enter Your 10 Digit Register Mobile No.
 
ANUPARAJPUT RAJPUT1/25/2019 11:45:15 AM
Congratulations sr ji thanks gurumantrEditDelete
ATUL GUPTA12/20/2018 3:14:58 PM
Thank you sir for gurumantraEditDelete
BALDEV PRASAD DESHMUKH12/20/2018 2:46:32 PM
Thank you sir EditDelete
SEEMA KASHYAP12/20/2018 2:13:11 PM
Thank you sir ji Guru mantra leaders ship traningEditDelete
TOMESH NARAYAN12/20/2018 1:58:10 PM
Thanks Sir ji For Providing Us GURUMANTRA.EditDelete
View all comments
 
Story
नमस्कार दोस्तों

 मेरा नाम अनिल गुप्ता है | मेरे पिता ने एक छोटे से गांव में रहने के बाद भी मुझे शहर में भेज कर बड़ी उम्मीदों से पाला था | मैंने डिप्लोमा इंजिनीरिंग कम्प्लीट करके जब पहली नौकरी की तो बहुत खुशी हुई | मेरी पगार ८०० रूपए थी | जल्दी ही मुझे यह एहसास होने लगा की इस पगार से मैं परिवार की उम्मीदों को पूरा नहीं कर पाऊंगा | फिर मैंने व्यवसाय करने का निर्णय लिया तथा अपने गांव वापस आ कर एक दुकान खोल ली | तीन वर्ष बीते और मेरी शादी हो गयी | मैंने व्यवसाय क्षेत्र में पूरा जोर लगाया, बहुत से व्यवसाय बदल कर देखे, किन्तु खास सफलता नहीं मिल पाई | मैंने पढाने के क्षेत्र में कदम रखने का निश्चय किया और रायपुर में जा कर सेंट जविएर स्कूल में टीचर की नौकरी करने लगा | पांच साल बीते, लेकिन एक बात समझ में आ गयी की यहाँ से भी मैं कुछ खास नहीं कर पाउँगा | तभी दिसम्बर २००५ में मुझे सिक्योर लाइफ का प्लान देखने का मौका मिला और मैं तुरंत इसमें ज्वाइन हो गया | मैंने दिल लगा के सिस्टम में काम किया और जब मेरा पहला चेक ५००० का चंद्रेश सर ने स्वयं अपने हाथों से मुझे दिया तो मेरी खुशी का ठिकाना नहीं था | इसके बाद मैं लगातार रेगुलर काम करता रहा और अक्टूबर २००६ में सिल्वर बन गया |

 इसके बाद मैंने नौकरी छोड दी और पूरी तरहसे इसमें आ गया | उस समय परिवार वालों ने मेरे इस निर्णय का बहुत विरोध किया किन्तु मैंने उन पर ध्यान नहीं दिया और अपना काम जारी रखा | इसी दौरान एक बार पिताजी को हार्ट अटैक आया और उन्हें इलाज के लिए तुरंत दो लाख की जरुरत पड़ी तब मेरी सिक्योर लाईफ की कमाई ही काम आई | उसके बाद से मेरे परिवार वाले सिक्योर लाइफ की तारीफ़ करते हैं और इसमें शामिल होने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करते हैं |
  सीनियर्स और सिस्टम की वजह से मैं डाइमंड इतनी आसानी से अगले तीन साल में बन गया की मुझे पता ही नहीं चला | इस से कहीं ज्यादा मेहनत मैंने पहले की थी, पर अब यह बात समझ मेंआ चुकी थी की यदि दिशा सही ना हो तो मेहनत भी काम नहीं आती | मेरे पास अब वो सब कुछ है, जो एक सफल व्यक्ति पाना चाहता है | मेरे पास दो मकान, एवम दो कारें हैं तथा मेरे दोनों बच्चे डीपीएस स्कूल में पढ़ते हैं | मैं चार बार विदेश यात्रा कर चूका हूँ | यह सब कुछ संभव हुआ इस डब्ल्यू एस एस के प्लेटफोर्म की वजह से और सीनियर्स और सिस्टम की वजह से |

जय डब्ल्यू एस एस

read here wife cheated website
 
 
Timeline Video
 






 
Achievements
 
  
ANIL KUMAR GUPTA from BHILAI, Venus
WORTH MORE THEN 50 LAKH

Update Achievement
 
ANIL KUMAR GUPTA from BHILAI, Venus
MERCEDEZ E CLASS BLUEEFFICIENCY

Update Achievement
 
 
 
 
 
 
 
 
 
Google Ads