Success Story of MANISH TIWARI Download
 


Name: MANISH TIWARI Place: BILASPUR
Recognition Level: Double Diamond Business Start From: 2007
Education: msc Team Size:
Past Work Profile: सेल्स रेप्रेसेंटटिव
Achievements: कार, विदेश यात्रा
Philosophy: सफलता की दृढ इक्छा और बड़ी सोच के साथ लगातार प्रयास जरुरी है।
 
Post Your Greetings    
Enter Your 10 Digit Register Mobile No.
 
 
Story
दोस्तों,
 Mr.Manish tiwari छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के समीपस्थ ग्राम गतोरा से एक मध्यम वर्गीय कृषक परिवार से पले बढे.पिता एक राईस मिल में मुन्सी की नौकरी करते थे.घर में माता पिता और चार भाई है.बचपन से पिता को कड़ी मेहनत से काम करने और 3000 की तनखाह में घर खर्च वहन करते देखे.सन 2001 में अचानक मिल संचालक की हत्या होने के कारन मिल बंद हो गया और पिता जी बेरोजगार हो गए.क़र्ज़ लेकर पिता ने टिम्बर का व्यवसाय शुरू किये.लेकिन यहाँ पर भी एक सड़क दुर्घटना में टांग टूट गई.और वो भी बंद करना पड़ा.पिता का सहयोग और परिवार का खर्च चलाने के लिए मनीष ने अपनी पढाई बिच में ही छोड़ दी और खेती करना शुरू कर दिए.साथ ही एक FMCG कंपनी में door to door मार्केटटिंग किये.जिससे उन्हें 5 से 6000 प्रति माह की आमदनी होती.जिससे घर खर्च तो चल जाता मगर समय और पैसा नहीं बचता था.बचपन से ही अमीरो की जिंदगी पसंद करने के कारण पैसे कमाने और दौलतमंद बने के रासते ढूंढता रहा.तभी एक मेडिकल कंपनी में MR. की नौकरी किये.13000 रु.प्रति माह में भी जरूरते पूरी नहीं हो पाती थी.उसी दौरान माँ के गर्भाशय में केंसर होने खबर मिली.और जॉब छोड़ कर घर आना पड़ा.गरीबी और परेशानियो के उस दौर में रिश्तेदारो ने भी साथ छोड़ दिया. कीसी ने कहा है "जब भी रात का अँधेरा घना हो समझ लो सवेरा हों ही वाला है",ठीक ऐसे ही इस कठिन परिस्थिति में किसी ने wss के सेमीनार में Securelife के बारे में बताया.प्लान देखते ही आँखे चमक उठी.मगर परेशानिया कम नहीं थी,क्योकि घर परिवार के सभी उच्च शिक्षा और शासकीय नौकरी को महत्व देते थे.इसलिए सिक्योर लाइफ में काम शुरू करने के लिए पारिवारिक विरोध झेलना पड़ा.एक बात तो समझ आ गई थी कि अगर आमिर बनना है तो नेटवर्क बनाकर ही संभव है. क्योकि अमीरो ने नेटवर्क बनाया.नौकरी या छोटे मोठे व्यवसाय से शायद जरूरते पूरी हो जाए मगर सपने पुरे करना असंभव है.इसलिए ठान लिया की अब तो चाहे कुछ भी हो सेक्योर लाइफ में सफल बनना ही है.चाहे किसी भी प्रकार की कितनी भी तकलीफे आये मुस्कुरा कर सफलता लेनी है.
     जीने के दो रास्ते हो सकते है 1- जो हासिल है उसे पसंद करो
या। 2- अपने पसंद को हासिल करो.
इनमे से 2 का चुनाव किया,फैसला किया और आने वाली  समस्याओं त परिस्थितिियोो सेे सामना करते हुए निरंतर कार्य करते हुए अपने मनपसंद कार,बाइक,भारत भ्रमण, विदेश यात्रा,घर का सपना पूरा करते हुए आज डायमंड है और मनपसंद जिंदगी की और अग्रसर है. 
 
Timeline Photos
  
 
 
 
 
Achievements
 
  
MANISH TIWARI from BILASPUR, Double Diamond
HUNDAI I10

Update Achievement
  
 
 
Promotion Achievements
 
SNAchieverNamePromotionYearStatePlaceRecognitionAchievementTargetFigure
1 MANISH TIWARIAsama Se Aage2010ChhattisgarhBILASPURTopazCar 1,00,000/-Pair Sale150
 
 
 
 
 
Google Ads