Success Story of CHANDRESH CHATURVEDI Download
 


Name: CHANDRESH CHATURVEDI Place: DURG
Recognition Level: Crown Business Start From: 22-02-2005
Education: B. Com, CA (Inter), ICWA Team Size:
Past Work Profile: Coaching Centre, Tax Practice, Practice as a Cost Accountant CMA, Share Broker in Indiabulls, Cost Account in Ispat Industries, Account Office in GE Capital - From January 2006 Fulltime in SecureLIFE
Achievements: More then 20 times foreign Tour - Singapore, Malesiya, Thailand, Switzerland, Paris, Prague (Czech Republic), Český Krumlov (Czech Republic), Budapest (Hungary), Bratislava (Slovakia), Vienna (Austria), Salzburg (Austria), Dubai, Nepal Car - Tata Nano, Tata Indica, Hyundai Grand i10, Audi A3 Premium Plus with Sun Roof
Philosophy: याद रखिये आपके जीवनकी 99% समस्याओं का हल पैसा है और बची 1% समस्या का कोई हल नहीं है |
 
Post Your Greetings    
Enter Your 10 Digit Register Mobile No.
 
LALIT KUMAR PATEL3/24/2019 8:37:10 AM
Ideol Icon ...EditDelete
AMJED HUSSAIN3/5/2019 8:11:04 AM
NiceEditDelete
TOMESH NARAYAN2/13/2019 10:08:01 AM
Sir Ji ThanksEditDelete
SANTOSH KOLHATKAR2/13/2019 9:39:56 AM
Good morning sir ji..💐💐💐EditDelete
SUSANT KUMAR DAS2/13/2019 8:26:30 AM
Congratulation sirEditDelete
View all comments
 
Story
 दोस्तों चंद्रेश चतुर्वेदी छत्तीसगढ़ के दुर्ग शहर में रहते हैं | इन्होने B.Com., ICWA एवं C. A. (Inter) की शिक्षा ली हुयी है | सिक्योर लाईफ का बिजनेस इन्होने सन 2005 में प्रारम्भ किया| इस व्यवसाय मेंआने से पहले इन्होने 2 मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब की है और 3 बार स्वयं काबिजनेस भी किया हुआ है | जब इन्हें सन 2003 में सिक्योर्लाईफ़ बिजनेस के बारे में बताया गया तब इन्होनेबिलकुल एक आम आदमी की तरह इसमें विश्वाश नहीं किया और जिसने इन्हें प्लान सुनायाथा उसे उलटे सीधे तर्कों से अपनी बात समझाने की कोशिश की और प्रयास किया की किसीभी तरह यह बिजनेस नहीं किया जाए | इसकी एक वजह और भी थी की उस समय जब इन्हें यह व्यवसाय बताया गयाथा तब उस समय वे इंडियाबुल्स की शेयर ट्रेडिंग की फ्रेंचाईजी चला रहे थे और इन्हेंइस व्यवसाय की सफलता पर संदेह के साथ साथ यह भी डर था की वे अपना वर्तमान व्यवसायभी इसके चक्कर में खो देंगें | इन्होने उस व्यक्ति को हर संभव तरीके से मना करने का प्रयासकिया | किन्तु आज वे उसीव्यक्ति को दिल से धन्यवाद देते हैं की उसने अपने प्रयास बंद नहीं किये और उसकेनिरंतर प्रयासों के चलते 1.5 साल बाद सन 2005 में यह व्यवसाय उन्हें समझ आ पाया | आज चतुर्वेदी जीसोचकर देखते हैं तो उनको खुद पर आश्चर्य होता है की इतने आसान और शानदार व्यवसायको समझने में उन्हें इतना समय क्यों लगा ? 

 चतुर्वेदी जी काकहना है की इस व्यवसाय को करना किसी भी अन्य व्यवसाय से करना बहुत आसान होता हैक्योंकी यहाँ आपको एक सफल सपोर्ट सिस्टम WSS के रूप में मिलता है और साथ में ऐसेलोगों की टीम जो आपको सफल बनाने के लिए आपके साथ निरंतर प्रयासरत रहती है | हमें तो केवलसिस्टम में बतायी गयी बातों का पालन करना होता है और हमारे सीनियर के साथ मिल करसफल होना होता है | जहां बाकी जगह जैसे नौकरी में आपको निरंतर अपनी नौकरी कीसुरक्षा के लिए पूरा जीवन स्वयं काम करना पड़ता है और काम के लिए जिम्मेदार रहनापड़ता है या पुराने बिजनेस में लगातार कम्पीटीशन करते रहना पड़ता है, उसके विपरीत इनबिजनेस में हमारे सीनियर और सिस्टम हमारी सफलता के लिए लगातार हमारा सहयोग करतेरहते हैं |

 आज चतुर्वेदीवित्तीय रूप से सम्पूर्ण सुरक्षित हो चुके हैं इसके अतिरिक्त उनके पास स्वयं कामकान प्रोपर्टी बैंक बैलंस तीन कार 10 से ज्यादा विदेश यात्रा और भी अनगिनतअचीवमेंट आ चुके हैं, इसके अलावा आज वो इस बिजनेस के उस मुकाम पर हैं जहां उन्हेंपैसे कमाने के लिए काम पर जाने की भी कोइ जरुरत नहीं, अर्थात टाईमफ्रीडम और मनी फ्रीडम जो केवल इस बिजनेस के माध्यम से प्राप्त हो पाता है |

 चतुर्वेदी जी यही कहना है की लोग इस बिजनेस में नहीं आने के लिए जितना दिमाग और समय और ऊर्जा खर्चकरते हैं (जो मैंने भी किया) उससे कम में आप यहाँ लाखों कमा सकते हैं | आप सोच कर देखियेअगर आपको अपने परिवार के सपने पुरे करने के लिए बैंक बैलेंस ना देखना पड़े तो कैसारहेगा ? यदि आपका हर दिनरविवार हो तो कैसा रहेगा ? यदि पैसा खर्च करने पर भी पैसा जमा होते रहने की समस्या आपकेपास हो तो कैसा रहेगा ? यदि आप ऐसा चाहते हैं तो अपने जीवन के 3 से 4 साल इस बिजनेस कोदेकर देखिये |
 
 

चतुर्वेदी जी कहना है :-

 
हर बार असफल होने पर एक ही मूलमंत्र का पालन कीजिये “बस एक बार और”
 
याद रखिये आपके जीवनकी 99% समस्याओं का हल पैसा है और बची 1% समस्या का कोई हलनहीं है |
 
अपना कीमती समय यह सोच कर नष्ट मत कीजिये की आपको क्या नहींकरना है, बल्कि यह सोचियेकी क्या करना है और वो कैसे मिलेगा |
जंग खा कर मिट जाने से बेहतर है इस्तेमाल होकर मिट जाना |

अगर किस्मत में रोना ही लिखा है तो सायकल पर बैठ कर रोने सेबेहतर है BMW में बैठकर रोना |
 
Timeline Photos
  
 
 
Timeline Video
 





















 
Achievements
 
  
CHANDRESH CHATURVEDI from DURG, Crown
WORTH MORE THEN 1CR

Update Achievement
 
CHANDRESH CHATURVEDI from DURG, Crown
AUDI A3 PREMIUM PLUS COST 40 LAKH

Update Achievement
 
 
 
 
 
 
 
 
 
Google Ads