Kahani Sangrah-Articles
 
Kahani Sangrah-Articles Total Articles - 23
Download
Always be positive

सपने कौन नहीं देखता ?

अगर मेंढक को गर्मा गर्म उबलते पानी में डाल दें तो

ज़िन्दगी खुद को खोजने के बारे में नहीं है. ज़िन्दगी खुद को बनाने के बारे में है.

सफलता विना बाधाओं के नहीं मिलती

जो ताउम्र सीखते हैं वही बुलंदियों पर पहुँचते हैं...

क्योंकि हर सफलता कई असफलताओं के बाद ही मिलती है...

लम्बा कूदना है तो पीछे हटने से मत डरिये

सफलता के 5 कदम

दीमक और घुन केवल लकड़ी और गेहू में ही नहीं बल्कि जिन्दा आदमी में भी लग सकते है

हिम्मत एक प्रवेशद्वार है

चेतना के स्तर

जीवन में सफलता-असफलता, हानि-लाभ, जय-पराजय के अवसर मौसम के समान है

हँसने के पाँच फायदे

परिवर्तन स्वीकार करने का क्रम

परिवर्तन का विरोध सदियों से होता रहा है, किन्तु परिवर्तन को रोका नहीं जा सकता

पैसिव इनकम (Passive Income) के ज़रिये कमाएं पैसे

5 चीजें जो आपको नहीं करनी चाहिए और क्यों

Focus करता क्या है

कहीं आपकी डिग्री आपके सपने तो नहीं तोड़ रही

Goal Setting: S.M.A.R.T होना चाहिए आपका "लक्ष्य"

करोड़पति बनना है तो नौकरी छोडिये...

हँसना हम सभी के लिये अति महत्वपूर्ण है

5 चीजें जो आपको नहीं करनी चाहिए और क्यों
 
 

दोस्तों जाने अनजाने हम ऐसी कई चीजें करते हैं जो हमारे पर्सनल डेवलपमेंट के लिए ठीक नहीं होतीं. वैसे तो इन चीजों की लिस्ट बहुत लम्बी हो सकती है पर मैं आपके साथ सिर्फ पांच ऐसी बातें शेयर कर रहा हूँ जो मैं खुद फ़ॉलो करता हूँ. हो सकता है कि आप पहले से ही इनमे से कुछ चीजें practice करते हों , पर अगर आप यहाँ से कुछ add-on (जोड़) कर पाते हैं तो definitely (निश्चित) वो आपके life को better बनाएगा.So, let’s see those 5 things:
5
चीजें जो आपको नहीं करनी चाहिए और क्यों ?

1)
दूसरे की बुराई को enjoy करना:ये तो हम बचपन से सुनते रहे हैं की दुसरे के सामने तीसरे की बुराई नहीं करनी चाहिए, पर एक और बात जो मुझे ज़रूरी लगती है वो ये कि यदि कोई किसी और की बुराई कर रहा है तो हमें उसमे interest नहीं लेना चाहिए और उसे enjoy नहीं करना चाहिए. अगर आप उसमे interest दिखाते हैं तो आप भी कहीं ना कहीं negativity को अपनी ओर attract करते हैं. बेहतर तो यही होगा की आप ऐसे लोगों से दूर रहे पर यदि साथ रहना मजबूरी हो तो आप ऐसे topics पर गूंगे और बहरे (deaf and dumb) हो जाएं , सामने वाला खुद बखुद शांत हो जायेगा. For example यदि कोई किसी का मज़ाक उड़ा रहा हो और आप उसपे हँसे ही नहीं तो शायद वो अगली बार आपके सामने ऐसा ना करे. इस बात को भी समझिये की अधिकतर जो लोग आपके सामने औरों का मज़ाक उड़ाते हैं वो औरों के सामने आपका भी मज़ाक उड़ाते होंगे. इसलिए ऐसे लोगों को निराश (discourage) करना ही ठीक है.

2)
अपने अन्दर को दूसरे के बाहर से compare करना: इसे इंसानी दोष (defect) कह लीजिये या कुछ और पर सच ये है की बहुत सारे दुखों का कारण हमारा अपना दुःख ना हो के दूसरे की ख़ुशी होती है. आप इससे ऊपर उठने की कोशिश करिए, इतना याद रखिये की किसी व्यक्ति की असलियत सिर्फ उसे ही पता होती है, हम लोगों के बाहरी यानि नकली रूप को देखते हैं और उसे अपने अन्दर के यानि की असली रूप से compare करते हैं. इसलिए हमें लगता है की सामने वाला हमसे ज्यादा खुश है, पर हकीकत ये है की ऐसे comparison का कोई मतलब ही नहीं होता है. आपको सिर्फ अपने आप को improve करते जाना है और व्यर्थ की comparison नहीं करनी है. सबसे अच्छा तरीका तो यह है, की हम हर महीने अपने ही पिछले माह के टारगेट को बीट करने के लिए अपना टारगेट बनायें

3)
किसी काम के लिए दूसरों पर निर्भर रहना: मैंने कई बार देखा है की लोग अपने ज़रूरी काम भी बस इसलिए पूरा नहीं कर पाते क्योंकि वो किसी और पे depend करते हैं. किसी व्यक्ति विशेष पर depend मत रहिये. आपका goal; समय सीमा के अन्दर काम को पूरा करना होना चाहिए, अब अगर आपका साथी तत्काल आपकी मदद नहीं कर पा रहा है तो आप किसी और की मदद ले सकते हैं, या संभव हो तो आप अकेले भी वो काम कर सकते हैं. ऐसा करने से आपका confidence बढेगा, ऐसे लोग जो छोटे -छोटे कामों को करने में आत्मनिर्भर होते हैं वही आगे चल कर बड़े -बड़े challenges भी पार कर लेते हैं, तो इस चीज को अपनी आदत (habit) में लाइए: ये ज़रूरी है की काम पूरा हो ये नहीं की किसी व्यक्ति विशेष की मदद से ही पूरा हो.

4)
जो बीत गया उस पर बार-बार अफ़सोस करना: अगर आपके साथ past में कुछ ऐसा हुआ है जो आपको दुखी करता है तो उसके बारे में एक बार अफ़सोस करिएदो बार करिएपर तीसरी बार मत करिए. उस incident से जो सीख ले सकते हैं वो लीजिये और आगे का देखिये. जो लोग अपना रोना दूसरों के सामने बार-बार रोते हैं उसके साथ लोग sympathy दिखाने की बजाये उससे कटने लगते हैं. हर किसी की अपनी समस्याएं हैं और कोई भी ऐसे लोगों को नहीं पसंद करता जो life को happy बनाने की जगह sad बनाए. और अगर आप ऐसा करते हैं तो किसी और से ज्यादा आप ही का नुकसान होता है. आप past में ही फंसे रह जाते हैं, और ना इस पल को जी पाते हैं और ना future के लिए खुद को तैयार (prepare) कर पाते हैं.

5)
जो नहीं चाहते हैं उस पर focus करना:सम्पूर्ण ब्रह्मांड में हम जिस चीज पर ध्यान केंद्रित करते हैं उस चीज में आश्चर्यजनक रूप से वृद्धि होती है. इसलिए आप जो होते देखना चाहते हैं उस पर focus करिए,उस बारे में बात करिए जो आप नहीं चाहते हैं. For example: यदि आप अपनी income बढ़ाना चाहते हैं तो बढ़ती महंगाई और खर्चों पर हर वक़्त मत बात कीजिये बल्कि नयी अवसर (opportunities) और अपनी आय बढ़ाने वाले विचार (income generating ideas) पर बात कीजिये.
इन बातों पर ध्यान देने से आप Self Improvement के रास्ते पर और भी तेजी से बढ़ पायेंगे और अपनी life को खुशहाल बना पायेंगे... All the best...

click here i want an affair why most women cheat
Posted on :11/17/2013 2:40:07 PM
   
  Cute web counter
 
Google Ads