Kahani Sangrah-Articles
 
Kahani Sangrah-Articles Total Articles - 23
Download
Always be positive

सपने कौन नहीं देखता ?

अगर मेंढक को गर्मा गर्म उबलते पानी में डाल दें तो

ज़िन्दगी खुद को खोजने के बारे में नहीं है. ज़िन्दगी खुद को बनाने के बारे में है.

सफलता विना बाधाओं के नहीं मिलती

जो ताउम्र सीखते हैं वही बुलंदियों पर पहुँचते हैं...

क्योंकि हर सफलता कई असफलताओं के बाद ही मिलती है...

लम्बा कूदना है तो पीछे हटने से मत डरिये

सफलता के 5 कदम

दीमक और घुन केवल लकड़ी और गेहू में ही नहीं बल्कि जिन्दा आदमी में भी लग सकते है

हिम्मत एक प्रवेशद्वार है

चेतना के स्तर

जीवन में सफलता-असफलता, हानि-लाभ, जय-पराजय के अवसर मौसम के समान है

हँसने के पाँच फायदे

परिवर्तन स्वीकार करने का क्रम

परिवर्तन का विरोध सदियों से होता रहा है, किन्तु परिवर्तन को रोका नहीं जा सकता

पैसिव इनकम (Passive Income) के ज़रिये कमाएं पैसे

5 चीजें जो आपको नहीं करनी चाहिए और क्यों

Focus करता क्या है

कहीं आपकी डिग्री आपके सपने तो नहीं तोड़ रही

Goal Setting: S.M.A.R.T होना चाहिए आपका "लक्ष्य"

करोड़पति बनना है तो नौकरी छोडिये...

हँसना हम सभी के लिये अति महत्वपूर्ण है

सफलता विना बाधाओं के नहीं मिलती
 
 

सफलता विना बाधाओं के नहीं मिलती !

 

दोस्तों, क्या होता है जब आप smothely अपनी गाड़ी चला रहेहोते हैं और अचानक ही एक स्पीड ब्रेकर आपके सामने आ जाता है ?

तब आप क्या करते हैं ?

क्या आप अपनी गाडी वहीँ रोक देते हैं और आगेबढ़ना छोड़ देते हैं ?

नहीं ! आप तो बस गाडी थोड़ी धीमी कर लेते हैं औरब्रेकर बीत जाने के बाद धीरे-धीरे अपनी स्पीड बढ़ाने लगते हैं. सहीं है ना ?

 

गाड़ी के मामले में हम सब यही करते हैं, परजब अपने गोल्स अचीव करने की बात आती है, जीवन में सफल बनने की बात आतीहै तब लोग काफी अलग behave करते हैं. बहुत से लोग अपने लक्ष्य के मार्ग में आनेवाले बाधाओं को स्पीड ब्रेकर्स के रूप में ना देख एक ऐसा गतिरोध समझ लेते हैं,जहाँसे आगे नहीं बढ़ा जा सकता ; और फिर वे अपने सारे प्रयास छोड़देते हैं !

 

पर रोड पर आने वाले स्पीड ब्रेकर और जीवन मेंआने वाले बाधाओं में कई समानताएं हैं, और ये समानताएं हमें सीखाती हैं किजैसे ब्रेकर आने पर हम रोड पर नहीं रुकते वैसे ही लाइफ में प्रोब्लेम्स आने पर भीहमे रुकना नहीं चाहिए। आइये इनपे थोड़ा गौर करते हैं :

 

दोनों आने ही आने हैं : ना हम बिना स्पीडब्रेकर के रोड पर चल सकते हैं और ना ही बिना बाधाओं के जीवन जी जा सकती है. ऐसा एकभी सफल इंसान नहीं मिलेगा जो आपको ये कहे कि वो बिना बाधाओं के ही सफल हो गया.इसलिए इस बात के लिए मानसिक रूप से तैयार रहने में ही समझदारी है की गोल्स अचीव करनेके प्रयास में रुकावटों का सामना करना ही पड़ता है.

 

दोनों ही महत्वपूर्ण हैं : अगर स्पीड ब्रेकर्स नहों तो अनियंत्रित स्पीड की वजह से बहुत से एक्सीडेंट्स हो सकते हैं ; उसीतरह जीवन में आने वाली बाधाएं हमें गहराई से सोचने और समस्याओं का समाधान ढूंढनेमें एक्सपर्ट बनाती हैं.

 

दोनों टेम्पररी हैं : कोई रोड ऐसी नहीं होती किजिसपे सिर्फ स्पीड ब्रेकर्स ही हों, और न ही सफलता का कोई रास्ता ऐसा होताहै जिस पर सिर्फ बाधायें ही बाधाएं हों. ब्रेकर्स और बाधाएं दोनों ही टेम्पररी होतेहैं, आते हैं, कुछ देर के लिए हमें प्रभावित करते हैं और फिरचले जाते हैं। पर अगर कोई इन्हे अस्थाई ना मान कर स्थाई समझ ले तो वो सफलता से दूरही रह जाता है.

 

दोनों से निपटने के लिए आप कुछ अलग करते हैं : पहलेआप smoothly अपनी गाड़ी चला रहे होते हैं पर जब स्पीड ब्रेकरआता है तो आप गाडी का acceleration कम करते हैं और ब्रेक लगाते हैं. ठीकइसी तरह जब जीवन में बाधाएं आती हैं तो इनसे निपटने के लिए आपको कुछ अलग करना होताहै, ज़रा सोचिये अगर ड्राईवर ब्रेकर आने पर भी वही करता रहे जो वो कर रहाथा तो क्या होगा, उसे झटका लगेगा, और अगर स्पीड अधिक है तो एक्सीडेंट भीहो सकता है. जीवन में आने वाली समश्याओं से निकलने के लिए हमें कुछ अलग करना होताहै. बाधाएं हमारे नार्मल जिंदगी से कुछ अलग होती हैं और उससे निकलने के लिए हमेअपने एप्रोच अपनी तरीकों में भी बदलाव लाने पड़ते हैं।

 

ज़रूरी नहीं कि वो दिखाई दें : कई बार स्पीडब्रेकर का पता तब लगता है जब हम उसपर से गुजर चुके होते हैं, उसी तरह कई बार समश्यायें तभी समझ मेंआती हैं जब वे हमें नुक्सान पहुंचा चुकी होती हैं. ऐसे स्थिति में हम बीते हुए कोनहीं बदल सकते पर निश्चित ही हम आगे के लिए सावधान हो सकते हैं.

 

दोनों के कई रूप होते हैं : जैसेसारे स्पीड ब्रेकर्स एक जैसे नहीं होते, कोई कम उबड़ खाबड़ होता है तो कोई ज्यादा,उसीतरह लाइफ में आने वाली प्रोब्लेम्स भी अलग-अलग तरह की होती हैं। कुछ आसानी से solve  हो जाती हैं तो कुछ बहुत समय लेती हैं।पर ये निश्चित है की अगर हम प्रयास करते रहें तो आज नहीं तो कल उनका समाधान मिल हीजाता है।

 

दोनों ही अनुभव के बाद आसान बन जाते हैं : जबआप एक ही रास्ते से बार-बार जाते हैं तो अवचेतन रूप में (subconsciously) उस रास्ते का मैप आपके दिमाग में तैयार हो जाता है, आपब्रेकर आने से पहले ही जान जाते हैं की वो आने वाला है और उसके अनुसार अपनी स्पीडएडजस्ट कर लेते हैं. जीवन में भी जब आप किसी बाधा से पार पा लेते हैं तो आपके दिमागमें उससे या उस जैसी समश्या से निपटने का ब्लू प्रिंट तैयार हो जाता है और अगलीबार वैसी ही समस्या आने पर आप आसानी से उसे सॉल्व कर लेते हैं.


दोस्तों, आपने अपनी जिंदगी के लिए जो भी लक्ष्य तय कियेहैं उन्हें जी जान से पीछा कीजिये और इस बात के लिए तैयार रहिये कि उनके पूरा होनेमें तमाम बाधाएं आएँगी पर वे सभी रोड पर आने वाले स्पीड ब्रेकर की तरह ही होंगी जोएक बार तो आपकी स्पीड कम तो कर सकती हैं पर आपको अपना सपना पूरा करने से रोक नहींसकतीं...

buy viagra in the philippines generic viagra without a prescription how much viagra should i take
love affairs with married men what makes married men cheat find an affair
Posted on :8/3/2015 2:12:56 PM
   
  Cute web counter
 
Google Ads