Kahani Sangrah-Articles Total Articles - 23
Download
Always be positive

सपने कौन नहीं देखता ?

अगर मेंढक को गर्मा गर्म उबलते पानी में डाल दें तो

ज़िन्दगी खुद को खोजने के बारे में नहीं है. ज़िन्दगी खुद को बनाने के बारे में है.

सफलता विना बाधाओं के नहीं मिलती

जो ताउम्र सीखते हैं वही बुलंदियों पर पहुँचते हैं...

क्योंकि हर सफलता कई असफलताओं के बाद ही मिलती है...

लम्बा कूदना है तो पीछे हटने से मत डरिये

सफलता के 5 कदम

दीमक और घुन केवल लकड़ी और गेहू में ही नहीं बल्कि जिन्दा आदमी में भी लग सकते है

हिम्मत एक प्रवेशद्वार है

चेतना के स्तर

जीवन में सफलता-असफलता, हानि-लाभ, जय-पराजय के अवसर मौसम के समान है

हँसने के पाँच फायदे

परिवर्तन स्वीकार करने का क्रम

परिवर्तन का विरोध सदियों से होता रहा है, किन्तु परिवर्तन को रोका नहीं जा सकता

पैसिव इनकम (Passive Income) के ज़रिये कमाएं पैसे

5 चीजें जो आपको नहीं करनी चाहिए और क्यों

Focus करता क्या है

कहीं आपकी डिग्री आपके सपने तो नहीं तोड़ रही

Goal Setting: S.M.A.R.T होना चाहिए आपका "लक्ष्य"

करोड़पति बनना है तो नौकरी छोडिये...

हँसना हम सभी के लिये अति महत्वपूर्ण है

जो ताउम्र सीखते हैं वही बुलंदियों पर पहुँचते हैं...
 
 

आज की तेज रफ्तार जिंदगी में हर कोई सबसे आगेजाना चाहता है। ये कहना अतिश्योक्ति न होगी कि हर कोई जीतना चाहता है। जीत काजज़बा किसी भी देश के विकास का सुचक है। परन्तु इस बात पर गौर करना ज्यादा जरूरीहै कि हमने सफलता की रेस में आगे बढ़ने के लिए ईमानदारी से कितनी कोशिश की। यदि हमअपना दिमाग खुला रखें तो हर अनुभव हमें समृद्ध बनाता है। सही अभ्यास के साथ जब भीहम अपनी बंधी-बंधाई योग्यता से ऊपर उठकर कुछ करने की कोशिश करते हैं तो ज्ञान औरहौसला दोनो ही बढ़ता है।

बचपन में हम सभी को कई नैतिक तथा मनोबल बढ़ाने वालीकहानियां सुनाई जाती थी, जो आज भी शुरूआती कक्षाओं में पढ़ाई जातीहैं। बचपन में शायद उन कहानियों का आशय समझ में न आता हो किन्तु समय के साथ जिसनेभी उन कहानियों का गूढ अर्थ समझ लिया उसने सफलता की इबारत लिख दी है। ऐसी ही एककहानी थी खरगोश और कछुए की जिसे लगभग हम सभी ने पढ़ी होगी।

जिसमें, एकजंगल में खरगोश और कछुए के बीच एक प्रतियोगिता का आयोजन रखा गया था कि, लक्ष्य तक कौन तेज दौङकर पहुँचेगा।जाहिर सी बात है दोनो की चाल में जमीन आसमान का अंतर था। मुकाबला एकतरफा ही नजर आरहा था फिर भी कछुए ने चुनौती स्वीकार कर ली। रेस शुरु हुई खरगोश अपनी तेज रफ्तारसे काफी आगे निकल गया। कछुआ धीरे-धीरे चल रहा था किन्तु निरंतर चल रहा था। जबकिअति आत्मविश्वासी खरगोश ने सोचा कि मैं तो बहुत आगे आ गया हुँ तो थोङा आराम करलेता हुँ। पेङ के नीचे लेटते ही उसे गहरी नींद लग गई। वहीं कछुआ धीमी गति से बिनाकिसी विश्राम के निरंतर चलते हुए लक्ष्य तक पहुँच गया। असंभव संभव में परिणित होगया। खरगोश की तेज चाल भी निरंतर और सतत अभ्यास से हार गई थी। खरगोश की हार से येभी सबक मिलता है कि जब तक लक्ष्य हासिल न हो जाये आराम या आलस के वशीभूत नही होनाचाहिए।

खरगोश और कछुआ तो प्रतीक मात्र हैं। यदि हमअपने आसपास नजर दौङाएं तो हम लोगों की कार्यपद्धति भी इन्ही दो श्रेणियों में बंटीहै। कोई निरंतर अभ्यास से अपनी कार्यकुशलता को निखारता है और लक्ष्य के लिए जुनूनकी हद तक कोशिश करता है, तो कोई अतिआत्मविश्वास की वजह से, सक्षम होते हुए भी लक्ष्य तक नही पहुँचपाता है। क्षेत्र कोई भी हो, नई-नईचीजों को सीखना, नई परिस्थितीयों में खुद को ढालनासफलता का प्रमुख सबक है। अभ्यास के दौरान कभी-कभी नकारत्मक भाव आना एक स्वाभाविकप्रक्रिया है किन्तु उसे स्वंय पर हावी होने देना सफलता की सबसे बङी बाधा है।आशावादी दृष्टीकोंण को सदैव अपनी सांसो की रफ्तार के साथ रखना चाहिए।

अभ्यास एक ऐसा गुणं है जो उपलब्धियों एवंसफलताओं का रास्ता प्रशस्त करता है। जीवन में नित नई बातों को सीखना तथा उसकाअभ्यास करते रहना जीवन की सतत प्रक्रिया है। कोई भी व्यक्ति सर्वगुंण सम्पन्न नहीहोता और न ही ज्ञान का भंडार लेकर पैदा होता है। हर कोई निरंतर अभ्यास से अपनीकार्यकुशलता और ज्ञान को बढ़ाने का प्रयास करता है। इसीलिए तो कहा गया है कि,

“करत करत अभ्यास के जङमति होत सुजान, रसरी आवत जात,सिल पर करत निशान।“

अर्थात जब रस्सी को बार-बार पत्थर पर रगङने सेपत्थर पर निशान पङ सकता है तो निरंतर अभ्यास से मूर्ख व्यक्ति भी बुद्धिमान बनसकता है।

निरंतर प्रयत्नशीलता और आलस्य का त्याग सफलताकी कुंजी है। चारों तरफ फैले ज्ञान के खजाने को स्वयं में समेटने के लिए कुछ नयाजानने की इच्छा और अभ्यास की प्रक्रिया को कभी थमने नही देना चाहिए। अपनी योग्यतापर विश्वास भी करना चाहिए किन्तु अतिविश्वास से भी दूर रहना चाहिए वरना खरगोश जैसीस्थिती बनते देर नही लगती। निरंतर प्रयत्न से अभ्यास का सकारात्म फल मिलता है जोताउम्र सीखते हैं वही बुलंदियों पर पहुँचते हैं और प्रैक्टिस मेक्स परफेक्टजैसीकहावतों को चरितार्थ करते हैं। तो क्या आप लगातार सिख रहे हैं ?...

go go how to get viagra in philippines
redirect go redirect
reasons why married men cheat cheat on wife click here
love affairs with married men what causes women to cheat find an affair
Posted on :8/3/2015 2:48:03 PM
   
  Cute web counter
 
Google Ads